शेक हैंड में खतरे अपार, जानेंगे तो अदब से करेंगे नमस्कार

main-shake-hand
  • हमीदिया में स्पेशल “नो शेक हैंड” मुहिम
  • नमस्ते-आदाब से बच जाएंगे इतनी बीमारियों से
  • ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज़ से मिली प्रेरणा

भोपाल। ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज़ नई दिल्ली (AIIMS) की स्पेशल मुहिम के साथ मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के हमीदिया अस्पताल प्रबंधन ने भी कदमताल की है। दरअसल दिल्ली की ही तर्ज पर अब मध्य प्रदेश की राजधानी में भी वर्ल्ड एंटीबायोटिक अवेयरनेस मिशन में हाथ मिलाने के बजाए नमस्ते-आदाब के जरिए स्वास्थ्य में होने वाले फायदों-नुकसान के बारे में लोगों को जागरूक किया जा रहा है।

गौरतलब है ठंड में स्वाइन फ्लू जैसे संक्रामक खतरों से निपटने के लिए लोगों को इससे बचाव के तरीकों के बारे में जागरूक करने के लिए एम्स के ‘हाथ न मिलाएं, नमस्ते करें’ कैंपेन की खासी सराहना हो रही है।

इसमें अस्पताल आने वाले मरीज और उनके परिजन को शेक हैंड में हाथ के स्पर्श से होने वाले संक्रमण के खतरों के बारे में आगाह किया जा रहा है। साथ ही दूर से ही हाथ जोड़कर नमस्ते करने या अदब से आदाब करने के तरीकों से होने वाले फायदों पर भी लोगों को जानकारी देने की अस्पताल प्रबंधन की कोशिश है। तो जनाब स्वाइन फ्लू से बचना हो अभी और आज, तो दूर से ही पूरे सम्मान के साथ करें नमस्ते और आदाब।