Crime / आगासौद गांव में दिव्यांग युवक, मासूम बेटी की नृसंश हत्या

नाजायज संबंधों के चलते दो कत्ल...मासूम जाग गई तो उसे मार दिया-
  • मढ़ोताल थाना क्षेत्र में वारदात
  • धारदार हथियार से किया वार
  • कमरे में खून से लथपथ मिलीं लाश
  • एसपी ने आरोपियों पर घोषित किया ईनाम

जबलपुर। माढ़ोताल थाना क्षेत्र अंतर्गत आगासौद में दिव्यांग पिता और उसकी तीन वर्ष की मासूम बेटी की खून से लथपथ लाश देखकर सभी दहल गए। गांव में किराना दुकान चलाने वाले युवक के घर में मंगलवार की सुबह पड़ोसियों ने पिता-पुत्री की लाश देखी तो पुलिस को गांव के लोगों ने सूचना दी।

सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस को ग्राम कोटवार नत्थूलाल दाहिया ने बताया कि उसे अरुण गौड ने आकर बताया कि सुशील गौड और उसकी तीन वर्षीय बेटी संजना की खून से सनी लाशें कमरे में हैं।

शादी में मायके गई पत्नी-

मौके पर पहुंची पुलिस को सुशील के पड़ोसियों ने बताया कि वे तीन भाई हैं, जो एक ही मकान में अलग-अलग हिस्सों में रहते हैं। मृृतक और उसकी पत्नी दिव्यांग हैं, पत्नी ननद की बेटी की शादी में ग्राम टिकारी, तेंदुखेड़ा गई हुई थी, वो सूचना पाते ही सुबह लौट आई।

पूरा मकान जांच में लिया-

आला अधिकारियों के निर्देशन पर एफएसएल, डॉग स्क्वॉड की टीम सहित पुलिस ने बारीकी से जांच की, जरूरी चीजों को जब्त करते हुए जांच शुरू कर दी है। शवों को पंचनामा कार्यवाही के बाद पीएम के लिए भिजवाया गया। ग्राम कोटवार नत्थूलाल दाहिया की रिपोर्ट पर धारा 450, 302 भादवि का अपराध दर्ज किया गया है।

मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारी-

दिव्यांग युवक और मासूम की नृसंश हत्या की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा, एएसपी डॉ. संजीव उइके, एएसपी क्राइम गोपाल प्रसाद खांडेल, सीएसपी गढ़ा रोहित काशवानी, एडीएसपी पीके जैन, सीएसपी बरगी रवि चौहान, एफएसएल प्रभारी डॉ. सुनीता तिवारी, फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट उप पुलिस अधीक्षक जेपी सोनी, डॉग हैंडलर डॉग को लेकर घटना स्थल पर पहुंचे।

आरोपी पर ईनाम घोषित-

वहीं पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा ने आरोपी पर दस हजार रुपए के नगद पुरुस्कार की घोषणा की है। इसके साथ ही सीएसपी गढा रोहित काशवानी के मार्ग निर्देशन में थाना प्रभारी माढोताल अनिल गुप्ता के नेतृत्व में थाना माढोताल स्टाफ एवं क्राईम ब्रांच की टीम गठित की है।

वर्जन-

पिता-पुत्री की नृशंस हत्या के मामले में तीन-चार बिंदुओं पर जांच की जा रही है, अभी सभी कुछ जांच के घेरे में है। बहुत जल्द आरोपी गिरफ्त में होगा।

  • रोहित काशवानी, सीएसपी गढ़ा, जांचकर्ता